कच्चे पपीते की चाय है गठिया का रामबाण इलाज, जानें बनाने की विधि और फायदे

उम्र बढ़ने के साथ-साथ या फिर कैल्शियम की कमी से हड्डियों से जुड़ी समस्याएं आम बात है। इन्हीं में से एक समस्या गठिया की है, जिससे कई लोग परेशान होते हैं। इसमें जोड़ों में दर्द होने जैसी समस्याएं आती है। इससे बचने के लिए या फिर इलाज के लिए आप काफी कुछ आजमा चुके हैं और फिर भी कोई असर नहीं होता, तो इसका एक बेहतरीन घरेलू उपाय है

ये उपाय है कच्चे पपीते की चाय। जी हां, आपको जानकर हैरानी होगी कि पपीते की चाय का सेवन आपकी गठिया की समस्या समाप्त कर सकती है। मेडिकल साइंस की दुनिया में भी इस चाय का काफी महत्व है। पपीता शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा को घटाता है और इसमें सूजन को दूर करने वाले गुण होते हैं।

जानिए कच्चे पपीते की चाय बनाने की बिधि-

इस चाय को तैयार करने के लिए आपको चाहिए – पानी, कच्चा हरा पपीता, ग्रीन टी बैग या ग्रीन टी की पत्त‍ियां। अब चाय तैयार करने के लिए सबसे पहले एक बर्तन में पानी लेकर उसमें कच्चे पपीते के टुकड़े डाल दें और इसे आंच पर रख दें। जब यह उबलने लगे, तब आंच बंद करके इसे थोड़ा ठंडा होने के लिए रख दें। फिर इसे छान लें और इसमें ग्रीन टी डालकर लगभग 3 मिनट के लिए छोड़ दें। अब यह चाय पीने के लिए तैयार है, इसे गर्मागर्म या गुनगुनी ही पिएं।

जानिए पपीते की इस चाय के फायदे – 

1 गठिया की समस्या में फायदेमंद।02 शारीरिक सूजन कम करने में मददगार।3 ब्लड प्लेटलेट्स की संख्या बढ़ाने में मददगार।4 शरीर के अवांछित तत्वों को बाहर कर आंतरिक सफाई में मददगार।