पपीते के पत्तों के जबरदस्त फायदे ये कई रोगों के लिए है लाभकारी

वैसे तो सभी फलों से हमें कुछ ना कुछ स्वास्थ्य संबंधी फायदे जरूर मिलते हैं, लेकिन फलों से ज्यादा पत्तों में लाभकारी गुण मौजूद होते हैं जो इंसान के बड़े से बड़े रोगों के लिए भी बहुत कारगर होता। पपीता (Papaya) स्वास्थ्य संबंधी कई रोगो से लड़ने में बहुत मदद करता है जैसे त्वचा में पीगमेंटेशन (Pigmentation) को कम करता है, रिकंल्स को कम करने में मदद करता है, बालों को मूलायम रखता है और पेट की परेशानियों को भी दूर रखता है।

पपीते का पत्ता डेंगू और मलेरिया के लिए है लाभकारी

मानसून का सीजन चल रहा है और ऐसे सीजन में कई खतरनाक बीमारियां उत्पन होती हैं जैसे डेंगू, मलेरिया, चिकनगूनिया आदि। आमतौर पर इसका इलाज डॉक्टरों के पास होता है लेकिन अब इस बीमारी को पपीते के पत्तों से भी ठीक किया जा सकता है। आपको बता दें कि, पपीते के पत्तों का रस डेंगू, मलेरिया जैसी कई खतरनाक बीमारियों से लड़ने में मदद करता है। इसमें मौजूद अनेक गुण खून में प्लेटलेट्स को बढ़ता है।

डायबिटीज में पपीते के पत्ते का रस

डायबिटीज में पपीते के पत्तों का रस एक लाभकारी दवा है। बता दें कि, पपीते का जूस पीने से ब्लड शुगर (खून में कोलेस्ट्रॉल) का लेवल कम हो सकता है इसलिए डायबिटीज के मरीजों को रोजाना थोड़ी मात्रा में पपीते के पत्तों का रस पीना चाहिए। एक शोध के मुताबिक ऐसा देखा गया है कि पपीते के पत्तों का रस पीने से खून में शुगर की मात्रा घटती है और लिपिड लेवल भी कम होता है।

पेट के लिए फायदेमंद होता है पपीते के पत्तों का रस

पपीते के पत्तों का रस पेट के कई रोगों से लड़ने में मदद करता है। बता दें कि, पपीते के पत्तों में कई तरह के एंजाइम्स होते हैं जैसे- पापेन, कायमोपापेन, प्रोटीज और एमिलेज आदि। इसलिए रोजाना एक कप पपीते के पत्तों का रस पीने से पेट की तमाम समस्याओं को आराम मिलता है। ये आपके पाचन शक्ति को मजबूत करता है साथ ही पेट में गैस की समस्या को भी दूर रखता है।

कैंसर से लड़ने में मदद करती है पपीते के पत्तों का रस

यदि किसी को कैंसर की शिकायत है तो वो पपीते के पत्ते का रस पीकर अपने इस गंभीर रोग का इलाज कर सकता है। एक शोध में पाया है कि कैंसर में पपीते के पत्तों के जूस का सेवन शरीर में ट्यूमर को विकसित करने से रोकता है। इसके अलावा पपीते में कैंसर रोधी गुण मौजूद होते हैं, जो क्रॉनिक मायलोमोनोसाइटिक ल्यूकीमिया को रोकते हैं।